HELLO SEXY LUND HOLDER FOR MORE PLEASE VISIT TELENOR T and CALL ME FOR REAL PHONE SEX / SMS @+1-984-207-6559 THANK YOU. YOUR X

Wednesday, May 29, 2019

दोस्त की बीवी की जम कर चूत मारी



(Dost Ki Biwi Ki Jam Kar Chut Mari)


सैंडी सिंह
मैं अहमदाबाद, गुजरात से हूँ और HotSexStory.xyz का बहुत पुराना पाठक हूँ।


मैं 21 साल का एक नवयुवक हूँ। मैंने अपने दोस्तों से ऐसा सुना है कि मैं स्मार्ट हूँ। मेरी लम्बाई 5 फीट 6 इंच है और गोरा व भरा हुआ शरीर है।
मुझे लगा कि अपना अनुभव आप लोगों को बताना चाहिए, इसलिए मैं आप लोगों को जो घटना सुनाने वाला हूँ, वो इसी 31 दिसम्बर की है।
मैं और शेखर बहुत गहरे दोस्त हैं। उसकी शादी को 6 माह ही हुए थे। उसकी पत्नी का नाम सुनीता है। सुनीता भाभी का फिगर 36-28-32 का है। गोरा रंग और गुलाबी होंठ हैं।


मेरे दोस्त की एक दुकान है।
इस 31 दिसम्बर पर वो 10 दिनों के लिए बाहर गया हुआ था। मैं उसके घर गया तो सुनीता भाभी अकेली थीं। सुनीता भाभी बहुत शरारती और सेक्सी हैं। वो मुझसे हँसी मज़ाक करती हैं।
उस दिन वो अकेली थीं, उन्होंने कहा- सैंडी खाना यहीं खा लो और फिर हम मूवी देखेंगे।
हमने खाना खाया और फिर हम साथ में मूवी देखने लगे।


सुनीता ने लाल रंग की नाईटी पहनी हुए थीं, उसमें वो बहुत सेक्सी लग रही थीं। उसमें उनकी ब्रा साफ-साफ दिख रही थी। उस मूवी में 2-3 चुम्बन के सीन आए, तो मेरी नज़र उनके ऊपर गई, तो मुझे देख कर वो शर्मा गईं।


यह देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया। हम दोनों एक ही बिस्तर पर बैठे थे।
रात के करीब 11 बजे थे, तो मैंने कहा- मैं जा रहा हूँ।
तो वो बोली- आप यहीं पर सो जाओ।


मेरी तो लाटरी खुल गई, मन की मुराद जो पूरी हो रही थी, मैं उसको चोदना चाहता था।
मैं वहीं पर सो गया। मूवी खत्म होने के बाद वो भी उसी बिस्तर पर सो गई।
मेरा हाथ उसके मम्मों पर लग गया, तो वो कुछ नहीं बोली।


मैंने हिम्मत करके उसके होंठों पर होंठ रख दिए तो वो मेरा साथ देने लगी, वो मेरे ऊपर आ गई और उसके मम्मे मेरे सीने से दबने लगे तो मेरा लंड तन गया। उसने धीरे-धीरे मेरे सारे कपड़े उतार दिए।
मैं सिर्फ़ अंडरवियर में रह गया। फिर मैंने भी सबसे पहले उस की साड़ी उतार दी। वो अब ब्लाउज और पेटीकोट में हो गई।
फिर मैंने थोड़ी देर तक उसके मम्मों को खूब दबाया और फिर ब्लाउज और पेटीकोट भी उतार दिया।
अब वो सिर्फ गुलाबी ब्रा और पैन्टी में गज़ब की सेक्सी लग रही थी।


फिर उसने मुझे नंगा कर दिया और फिर मैंने भी उसके ब्रा और पैन्टी उतार दी। लाइट की रोशनी में उसका पूरा बदन चमक रहा था। फिर हम दोनों एक-दूसरे को चूमने-चाटने लगे।
उसके 36 साइज़ के मम्मों को मैं खूब मस्ती से चूस रहा था, उसका एक दूध मेरे मुँह में था और दूसरा हाथ में था।
वो मेरे लंड तो सहला रही थी।



करीब हमने 15 मिनट तक चूमा-चाटी की। उसने मेरा पूरे बदन को चूमा और मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी। उसने मेरे लंड को बहुत देर तक चूसा और मेरा सारा जूस पी गई।
उसकी चूत एकदम साफ थी, उस पर एक भी बाल नहीं था।
मैंने उसके पैरों को फैलाया और मैं भी उसके चूत को चूसने लगा। दस मिनट के बाद उसने पानी छोड़ दिया।


हम दोनों फिर 69 की पोजीशन में हो गए। थोड़े ही देर में मेरा लंड फिर से तन गया।
वो कहने लगी, “मेरे पति का लंड तो केवल 5 इंच लम्बा और 1.5 मोटा ही है। उसमें मुझे मज़ा नहीं आता है। सैंडी मुझे आपका लंड बहुत पसंद आया। प्लीज़ जल्दी करो, मैं और अब नहीं रुक सकती.. प्लीज़ मुझे जल्दी से चोद डालो..!


मैंने उसकी गाण्ड के नीचे एक तकिया लगाया और उसके पैरों को फैला दिया। फिर मैंने अपने लंड का टोपा उसकी चूत पर रखा, तो उसकी चूत का छेद पूरा ढक चुका था।
मैंने धीरे से लौड़े को उसकी दरार में दबाया, तो उसके मुँह से चीख निकली, “आआआ… आआआ..आऐ ययईईई.. ईईईईईईई मार डाला प्लीज़ सैंडी धीरे करो ना..!”


मैंने उसके मम्मों को चूसना शुरू कर दिया। थोड़ी देर ऐसा ही उसके ऊपर लेटा रहा और उसे पकड़ कर 3-4 धक्के मारे और पूरा डाल दिया।
वो रोने लगी और खून की धार से मेरा लौड़ा रंग चुका था और वो इतनी तेज़ चीखी, “आआआ आआऐययईईई ईमाआआअ न्न्नरनणणन् माआअर डाला सैंडी मेरी पूरी फट गई रे….!”


यह कहानी आप HotSexStory.xyz पर पढ़ रहे हैं !
मैंने बोला- कोई बात नहीं.. डार्लिंग..!
फिर मैंने उसके मम्मों और होंठों को चूसने लगा फिर वो धीरे-धीरे शांत हो गई।
उसने पूछा- कितना अन्दर गया..!
तो मैंने बोला- पूरा डाल दिया…!


मैंने फिर धक्के देना शुरू कर दिया। उसका दर्द बढ़ रहा था और धीरे-धीरे धक्के देते-देते ही कम हुआ। अब मैंने थोड़ी से स्पीड बढ़ा दी।
मेरी स्पीड से वो सिसकियाँ भर रही थी, “सस्स्स्स्शह सैंडी मज़ा आ रहा है.. आज आपने मेरी चूत फाड़ दी..!”


धीरे-धीरे उसे भी मज़ा आने लगा और वो भी नीचे से अपनी गाण्ड उछाल-उछाल कर चुदवाने लगी। फिर वो दस मिनट में ही झड़ गई और उसको चोदने में मज़ा आ रहा था। वो फिर थोड़ी देर में झड़ गई.. इस तरह 30 मिनट में वो 4 बार झड़ चुकी थी।



मैंने उससे पूछा- कैसा लग रहा है?
तो उसने कहा- बहुत मज़ा आ रहा है.. ऐसा मज़ा तो मुझे मेरे पति ने कभी नहीं दिया..!
थोड़ी ही देर चोदने के बाद मैं बोला- मेरा पानी निकल रहा है..!
तो उसने कहा- मेरी चूत भर दो सैंडी..!
और मैंने सारा पानी उसकी चूत में ही डाल दिया और हम दोनों निढाल होकर लेट गए।


फिर मैं उठा और बाथरूम में जाकर अपना लंड साफ किया, पर सुनीता नहीं उठ पा रही थी क्योंकि उसे चलने में तकलीफ़ हो रही थी।
मैं उसे उठा कर बाथरूम में ले गया और उसकी चूत को साफ किया।
हम दोनों थोड़ी देर ऐसे ही नंगे लेटे रहे। थोड़ी देर के बाद मैंने उसे चूमना-चाटना शुरू कर दिया, तो वो भी तैयार हो गई, हम दोनों फिर से 69 की पोजीशन में हो गए और वो थोड़ी ही देर में झड़ गई।
फिर मैंने उसे डॉगी स्टाइल में चोदना शुरू कर दिया।


मैंने इस बार एक ही धक्के में पूरा का पूरा लंड डाल दिया तो उसे के मुँह से ज़ोर से चीख निकल गई, “आआऐययई ईईईई माअरर डाला सैंडी.. मैं मर गई उूइईई माआननणणन् माआअर डाला..!”
मैंने उसके लटकते मम्मों को पकड़ा और ज़ोर-ज़ोर से धक्के मारने लगा। फिर उसे भी मज़ा आने लगा।
15 मिनट तक चोदने के बाद मैंने उसकी गाण्ड में अपना लंड घुसेड़ दिया, तो वो ज़ोर से चीखी, “आऐयईईई माआअरर्र्र डाला मैं मर गई.. प्लीज़ सैंडी.. बाहर निकालो..!”


पर मैंने एक ना सुनी और धक्के मारता ही गया थोड़ी देर में वो शांत हो गई।
फिर मैंने उससे पूछा- कैसा लग रहा है?
तो उसने कहा- बहुत मज़ा आ रहा है..!
इसे तरह मैंने उसकी गाण्ड और चूत दोनों मारीं और मेरे लण्ड का सारा पानी फिर उसके चूत में छोड़ दिया।


मैंने उसे रात में 4 बार चोदा और 2 बार उसकी गाण्ड मारी।
सुबह फिर से उसने मेरे ऊपर बैठ कर मेरा लंड अंदर ले लिया, लेकिन वो ठीक से ले नहीं पा रही थी, क्यूंकि उसे थोड़ा दर्द हो रहा था।
फिर मैंने उसकी चूत पर सचिन तेंदुलकर की तरह स्ट्रोक लगाने शुरू कर दिए और वो सिसकारियाँ लेती रही ‘यसस्स्स स्स्स्स्स् स्सस्ससिई ईईईई ईईई ईईईई ईस्स’ उफ़फ्फ़ अफ क्या लंड है सैंडी काश मैंने तुमसे शादी की होती उईई ई माँ मार डाला.. सैंडी और ज़ोर से चोदो मुझे..!’
और इस तरह चोदते-चोदते मैंने अपना पानी उसकी चूत में ही डाल दिया।


फिर कुछ देर बाद जब वो रसोई में कुछ बनाने गई तो मैंने उसे नंगा कर दिया फिर रसोई के प्लेटफॉर्म पर बैठा कर उसके दोनों पैर अपने कंधे पर रखे और उसकी चूत में पूरा लंड डाल दिया।



30-40 मिनट तक चोदने के बाद हमने एक ब्लू-फिल्म देखी और फिर हम ने दिन भर में 6-7 बार चुदाई की।
वो बोली- आज तुमने मुझे वो मज़ा दिया है, जिसके सपने मैंने बचपन से देखे थे.. आई लव यू सैंडी..!
इस तरह मैंने उसे दस दिन तक चोदा, उसके बाद मेरा दोस्त आ गया था।
उसके बाद हमें जब भी मौका मिलता, हम दोनों नहीं चूकते थे।


मुझे आप अपने विचार यहाँ मेल करें।

No comments:

Post a Comment